Skip to content
Advertisement

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

  • by
Advertisement

समाज में एक संकुचित विचारधारा जहाँ पर लडकियों को एक बोझ की तरह माना जाता है, आज भी देश के कुछ हिस्सों में देखने को मिलती है जिससे कि परिवार वाले अपने घर में बेटी के जन्म पर खुश होने की बजाय दुखी होते है। उनकी इस विचारधारा का एक मुख्य कारण कही न कही उनकी कमजोर आर्थिक स्थिति भी होती है क्योकि समाज में प्रचलित दहेज प्रथा के कारण बेटी की शादी पर खर्च करने के लिए बहुत धन की आवश्यकता पडती है। परंतु हर नागरिक आर्थिक रूप से इतना खर्चा कर पाने में समर्थ नहीं होता। साथ ही आज इस दिखावे के युग में शादी जैसे अवसर पर जरूरत से ज्यादा धन लगाया जाता है जोकि एक लडकी के माँ-बाप पर एक बोझ की तरह साबित होता है और कई बार तो उन्हे कर्ज में भी डूबो देता है। ऐसी ही संकीर्ण धारणा को समाज से खत्म करने व आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों की बेटियों की शादी पर आर्थिक सहायता प्रदान करने के लक्ष्य से यूपी सरकार ने सामूहिक विवाह के रूप में उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना को लांच किया था। योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया जो पहले आनलाइन होती थी वो फिलहाल बदं की हुई है परंतु इस योजना का लाभ लेने के इच्छुक उम्मीदवार सामूहिक विवाह कार्यक्रम जो सरकार द्वारा समय- 2 पर आयोजित किये जाते है उनमें भाग ले सकते है। साथ ही कुछ संक्षिप्त जानकारी हमने भी नीचे के लेख में दी है इसे भी अवश्य पढें।

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों की बेटियों के विवाह करवाने के लिए ₹51000 की अनुदान राशि प्रदान करती है। वित्त वर्ष 2022- 23 के लिए सरकार द्वारा इस योजना के लिए 600 करोड़ रुपए का बजट प्रस्तावित किया गया है। योजना का लाभ एक परिवार की अधिकतम 2 कन्याओं को दिया जायेगा जिसमें कन्या की आयु 18 वर्ष से अधिक एवं वर की आयु 21 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। जो इच्छुक लाभार्थी योजना का लाभ लेना चाहते है उन लोगो की वार्षिक आय ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले के लिए 46080 रूपये होनी चाहिए और शहरी क्षेत्रो के लोगो की वार्षिक आय 56460 रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। केवल प्रथम विवाह के लिए ही कन्या योजना की पात्र होगी। योजना के तहत आवेदन केवल शादी के 90 दिन पहले अथवा 90 दिन बाद तक ही स्वीकार्य है | 

Advertisement
योजना का नाम उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना
योजना किनके द्वारा आरम्भ की गई उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थी उत्तर प्रदेश राज्य की आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों की बेटियां
योजना में पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम द्वारा
मुख्य उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर नागरिकों की बेटियों की शादी पर आर्थिक सहायता प्रदान करना
मुख्य लाभ शादी जैसे अवसरों पर होने वाली फिजूलखर्ची को रोका जा सकेगा तथा साथ ही गरीब परिवार की बेटियों के विवाह बिना परेशानी के सम्पन्न हो सकेंगे
प्रोत्साहन धनराशि ₹51000
योजना श्रेणी उत्तर प्रदेश सरकार योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट

shadianudan.upsdc.gov.in

महत्वपूर्ण सूचना –

योजना के अंतर्गत लड़कियों की शादी के लिए दी जाने वाली धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक अकॉउंट में पंहुचा दी जाएगी इसलिए आवेदक  के पास अपना बैंक अकॉउंट होना चाहिए और बैंक अकॉउंट केवल राष्ट्रीय बैंक में होना चाहिए | सरकार द्वारा दी जाने वाली धनराशि आवेदक तभी निकल सकता है जब उसकी बेटी की शादी हो |

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *