Skip to content
Advertisement

प्रधानमंत्री श्री स्कूल स्कीम

  • by
Advertisement

शिक्षा का किसी भी देश की उन्नति और विकास में बहुत महत्वपूर्ण योगदान होता है। शिक्षा के द्वारा व्यक्ति न केवल अपना बल्कि अपने परिवार, समाज तथा देश के विकास में भी भागीदार बनता है। शिक्षा के द्वारा समाज को एक दिशा मिलती है। शिक्षा के इसी महत्व को ध्यान में रखते हुए सरकार ने शिक्षा को अनिवार्य करने के लिए समय-2 पर अनेक योजनाएं चलाई है। हाल ही में 5 सितंबर 2022 को शिक्षक दिवस के मौके पर सरकार द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री श्री स्कूल स्कीम की घोषणा की गई है। योजना के अंतर्गत सरकार ने देश के 14500 स्कूलस को अपग्रेड करने के लिए इस योजना को लांच किया है। योजना की अधिक जानकारी के लिए अंत तक हमारा पूरा लेख पढें।

प्रधानमंत्री श्री स्कूल स्कीम

प्रधानमंत्री श्री स्कूल स्कीम में SHRI stands for School for Rising India केन्द्र सरकार की एक योजना है जिसके द्वारा सरकार देश के 14500 Schools को develope and upgrade करने का काम करेगी। सभी स्कूलस को मॉडर्न बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इसेक अंतर्गत सरकार केन्द्र, राज्य, union territories के अंतर्गत चलने वाले स्कूलों को डिवेलप तथा अपग्रेड करने पर काम करेगी। इसमें नवीनतम तकनीक, स्मार्ट कक्षा, खेल और आधुनिक अवसंरचना पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा। साथ ही सरकार नई शिक्षा नीति के अंतर्गत शामिल किए गए घटकों को भी इन विद्यालयों मे शामिल करेगी। इस योजना से शिक्षा के स्तर को बढाने में मदद मिलेगी।

Advertisement
योजना का नाम प्रधानमंत्री श्री स्कूल स्कीम (PM SHRI School Scheme)
योजना किनके द्वारा आरम्भ की गई केन्द्र सरकार द्वारा
लाभार्थी देश के 14500 स्कूल
योजना कब शुरू की गई 5 सितंबर 2022
मुख्य उद्देश्य देश के 14500 Schools को develope and upgrade किया जायेगा तथा आधुनिक सुविधाएं प्रदान की जायेगी।
मुख्य लाभ शिक्षा के स्तर में सुधार होंगे तथा नई सुविधाओं से परिपूर्ण स्कूलों में बच्चों को बहुत कुछ सीखने को मिलेग
योजना के लिए आवंटित धनराशि 27,360 करोड़ रुपये
योजना श्रेणी केन्द्र सरकार योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट अभी उपलब्ध नहीं

प्रधानमंत्री श्री स्कूल स्कीम की विशेषताएं –

  1. National Education Policy के तहत प्ले स्कूल भी upgrade होंगे। वहीं इन पीएम श्री स्कूलों में क्लास 3 से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई कराई जाएगी जिसमें लगभग 20 लाख स्टूडेंट्स पढ़ेंगे।
  2. इन स्कूलों में पढ़ने-पढ़ाने, सीखने-सिखाने के लिए ज्यादा से ज्यादा Experimental, Transformational और Holistic means all round/ integrated methods (जिसमें indoor, outdoor हर तरह की एक्टिविटी होगी) अपनाई जायेगी।
  3. केवल पढ़ाई ही नहीं, खेल की सुविधाओं में भी ये स्कूल बेहतर बनाए जायेंगे। यहां हर लोकप्रिय स्पोर्ट्स, गेम्स खेलने, सीखने के मौके होंगे।
  4. पीएम श्री स्कूलों में आर्ट रूम भी होंगे जिनमें बच्चों की पर्सनालिटी में creativity और आर्ट भी बचपन से develope हो सकेगा।
  5. इन स्कूलों को ग्रीन स्कूल के रूप में डेवलप किया जाएगा। इनके कैंपस इस तरह तैयार होंगे जहां जल संरक्षण से लेकर कूड़े की Recycling, बिजली की बचत का ख्याल रखा जाएगा।

इसके साथ ही अनेक सुविधाओं व विशेषताओं से इन स्कूलों को संपन्न बनाया जायेगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *