Skip to content
Advertisement

केरल विजयमृतम स्कीम

  • by
Advertisement

समय के साथ समाज में अनेक परिवर्तन आए है। जहाँ एक ओर विकलांग व्यक्ति को समाज हीन भाव से देखता था, उन्हें दूसरों पर आश्रित समझता था वही दूसरी ओर आज ये अपनी प्रतिभा के आधार पर समाज में स्वयं के लिए एक सम्मानीय स्थान बना रहे है। ऐसे ही कुछ प्रतिभावान मेधावी छात्रों को पुरस्कृत करने के लिए केरल सरकार ने  केरल विजयमृतम स्कीम शुरू की है। योजना राज्य के 15 ऐसे बच्चों को एकल नकद पुरस्कार देगी  जिन्होंने डिग्री / समकक्ष पाठ्यक्रमों, स्नातकोत्तर और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में उच्च अंक प्राप्त किए हैं। योजना संबंधित विस्तृत जानकारी के लिए अंत तक पूरा आर्टिकल देखे। इसमें आवेदन प्रक्रिया, योजना का उद्देश्य, योजना क्या है ये सब स्पष्ट किया गया है।

केरल विजयमृतम स्कीम

केरल विजयमृतम स्कीम राज्य के मेधावी विकलांग बच्चों को डिग्रीधारी / समकक्ष पाठ्यक्रमों, स्नातकोत्तर और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में उच्च अंक प्राप्त करने पर दी जाती है। योजना के अनुसार डिग्री या इसके समकक्ष पाठ्यक्रम के प्रत्येक शारीरिक रूप से विकलांग छात्र को उनकी योग्यता के अनुसार नकद इनाम के रूप में 8000 रुपये दिए जाएंगे। इसके अलावा, स्नातकोत्तर और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के दिव्यांग छात्रों को नकद पुरस्कार के रूप में 10,000 रुपये दिए जाएंगे।चयनित छात्रों को प्रमाण पत्र और मेमेंटो भी दिया जायेगा।

Advertisement
योजना का नाम केरल विजयमृतम स्कीम
योजना किनके द्वारा आरम्भ की गई केरल सरकार द्वारा
लाभार्थी केरल राज्य के डिग्रीधारी / समकक्ष पाठ्यक्रमों, स्नातकोत्तर और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में उच्च अंक प्राप्त करने वाले विकलांग बच्चों को
योजना में पंजीकरण प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम द्वारा
मुख्य उद्देश्य मेधावी विकलांग बच्चों को एकल नकद पुरस्कार प्रदान किया जायेगा
मुख्य लाभ विकलांग छात्रों का हौसला बढेगा वे आगे भी इसी रीति मेहनत कर अपनी काबिलियत के दम पर सफलता के नये आयाम सेट करेंगे और अनेकों के लिए प्रेरणास्त्रोत बनेंगे।
प्रोत्साहन धनराशि  8000 रुपये तथा 10,000 रूपयें तक
योजना श्रेणी केरल सरकार योजनाएं
आधिकारिक वेबसाइट sjd.kerala.gov.in

पात्रता शर्ते –

  • आवेदक को केरल राज्य के सरकारी / सहायता प्राप्त महाविद्यालयों / अन्य संबद्ध संस्थानों (समानांतर कॉलेज, दूरस्थ शिक्षा केंद्र) से पाठ्यक्रम उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • पाठ्यक्रम पूरा होने के प्रमाण पत्र DMC, आधार कार्ड, मेडिकल बोर्ड प्रमाणपत्र,  बैंक पासबुक आदि जमा करवाने होंगे।
  • दो या अधिक छात्रों की पात्रता समान होने पर उच्च विकलांगता प्रतिशत वाले छात्र को प्राथमिकता दी जायेगी।
  • डिग्री या इसके समकक्ष पाठ्यक्रम को पास करने वाले छात्र को कम से कम 60% marks (Arts subject), और 80% marks (Science subject) तथा स्नातकोत्तर और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों को पास करने वाले छात्र को कम से कम 60% marks प्राप्त करना अनिवार्य है।

स्कीम के लिए आवेदन –

  1. Official website sjd.kerala.gov.in पर जाकर Schemes वाले आप्शन पर क्लिक कर इस स्कीम  Vijayamritham scheme-Cash award for meritorious CWDs  के लिंक पर क्लिक कर अपना फॉर्म डाउनलोड कर ले।
  2. फॉर्म भरकर इसे जिला सामाजिक न्याय अधिकारियों को सभी दस्तावेजों के साथ जमा करवा दे। चयनित छात्रों के बैंक खाते में सीधे ही ये धनराशि ट्रांसफर कर दी जायेगी।
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *